Anokha Uphar – Birthday Shayari

Login and start writing on World Paper. Best poetry will be showcased on website and will be shared on our social media profiles.
Login

Copyright © NiVo (Nitin Verma)

अनोखा उपहार

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

उपहार लेने जब गया मैं,
ढूँढ न सका, थक गया मैं !!

पूँछा सबने क्या चाहिए तुम्हे,
मैं बोला –
सबसे अच्छा उपहार चाहिए हमें !
खूबसूरत हो मेरे दोस्त की तरह,
अनमोल हो उसकी दोस्ती की तरह !!
देखे जो उसे,
दीवाना हो जाये उसका मेरी तरह !!

हैरान हो गए सुनकर वो सब, और बोले-
“खुदा को सुनाओ अपनी आरज़ू अब !!”

फिर क्या !!… मैं-
जा पंहुचा ख्वाइशें बताने,
सुनकर खुदा लगे मुस्कुराने !!
जब सुना मैंने उनके जवाबो को,
तब समझ आया, कि,
हम भी थे बहुत अनजाने !!

तुम्हे पता है खुदा क्या बोले ?

खुदा ने कहा –
“आज के दिन एक शख्स बनाया था मैंने,
काफ़ी शिद्दत से उसे तराशा था मैंने !!
बराबरी नहीं उसकी चंद सिक्कों से बालक !
अपने आप में उसे,
एक अनमोल उपहार बनाया था मैंने !!

तेरी दोस्ती उसका अच्छा उपहार होगा,
तेरी बातें उसके लबो का हार होगा !!
हर मुश्किल में साथ देना उसका,
यही उपहार
उसके लिए ख़ास हर बार होगा !!”
~नीवो (नितिन वर्मा)

Anokha Uphar

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Uphaar Lene Jab Gaya Main,
Dhoond Na Saka, Thak Gaya Main !!

Poocha Sabne Kya Chahiye Tumhe,
Main Bola-
Sabse Accha Uphaar Chahiye Hame!
Khoobsurat Ho Mere Dost Ki Tarah,
Anmol Ho Uski Dosti Ki Tarah !!
Dekhe Jo Use,
Diwana Ho Jaaye Uska Meri Tarah !!

Heraan Ho Gaye Sunkar Wo Sab, Aur Bole-
“Khuda Ko Sunao Apni Arjoo Ab!!”

Phir Kya !!… Main-
Ja Pahucha Khwaishein Batane,
Sunkar Khuda Lage Muskurane !!
Jab Suna Maine Unke Jawabo Ko,
Tab Samajh Aya, Ki,
Ham Bhi The Bahut Anjaane !!

Tumhe Pata Hai Khuda Kya Bole ?

Khuda Ne Kaha-
“Aaj Ke Din Ek Shakhs Banaya Tha Maine,
Khaafi Shiddat Se Use Tarasha Tha Maine !!
Brabari Nahi Uski Chnd Sikko Se Baalak !
Apne Aap Mein Use,
Ek Anmol Uphaar Banaya Tha Maine !!

Teri Dosti Uska Accha Uphaar Hoga,
Teri Baatein Uske Labo Ka Haar Hoga !!
Har Mushkil Mein Saath Dena Uska,
Yahi Uphaar
Uske Liye Khaas Har Baar Hoga !!”
~NiVo (Nitin Verma)

To report this post you need to login first.




0 Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

©2018 Poems Bucket | Best Website For Poems & Shayari

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account