शायरी

Pita Ji Apna Zakhm Chupaane Lage - Hindi Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

बिमारी का किस्सा क्या शुरू हुआ,
घर में सब अपना-अपना दुःख बताने लगे !!
“कल फिर जाना है दो वक़्त की रोटी कमाने”
सोचकर ये पिता जी अपना ज़ख्म छुपाने लगे !!

Read More »
Dekho Shaan-o-shokat - Handicapped Hindi Motivational Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

देखो! शान-ओ-शौकत,
चन्द लकीरों की मोहताज नहीं !!
उसके पास भी सब कुछ है,
जिसके दोनों हाथ नहीं !!

Read More »
Man Mein Chupa Ravan Uske - Ram Raavan Dussehra Hindi Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

कलयुग है ये मेरे बंधु,
यहाँ नाम जैसा न काम है !!
मन में छुपा रावण उसके,
भूमिका निभाता जो राम है !!

Read More »
Yu Kisi Ke Chale Jaane Se - Sad Hindi Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

कुछ लोगों के ‘साथ’ में ही
गज़ब का स्वाद होता है !!
वरना यूँ किसी के चले जाने से
रोटियाँ बे-स्वाद नहीं लगती !!

Read More »
Hamare Shehar Ki Galiya - Safar Hindi Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

हमारे शहर की गलियाँ,
तुम्हारे सफर का हिस्सा थी ?
या फिर भटक गए थे
तुम अपनी राह से !!

Read More »
Tum Ek Nai Kahani Bankar Aana Romantic Sad Love Hindi Shayari En
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

वाकिफ हूँ दूरी से, इस मजबूरी से,
तुम मेरी जिंदगानी बनकर आना !!
चल सकूं मैं संग तुम्हारे,
तुम एक ऐसी रवानी बनकर आना !!

Read More »
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

टूट कर बिखरा जो मैं,
साथ चलने में उनको घाटा नज़र आया !!
बिखरी तो गुलाब की पंखुड़ियां भी थी,
पर उनको तो बस काँटा नज़र आया !!

Read More »
Love Hindi Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

जहां तक मुमकिन है,
तुम्हारे साथ रहूँगा !!
हो न सका तुम्हारी सुबह का सूरज,
तो चाँद-ए-रात रहूँगा !!

Read More »
Mere Desh Ki Mitti Ud Rahi Hai Isro Desh Bhakti Hindi Shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

आस, काश, निराश की,
कई कड़िया जुड़ रही है !!
देखो फिर भी आसमां में,
मेरे देश की मिट्टी उड़ रही है !!
©नीवो

Read More »
motivational hindi shayari
शायरी
NiVo (Nitin Verma)

सफर का मजा,
उन्होंने ही लिया जो चलते रहे !!
बैठ गए जो थककर,
वो तो बस धूप में जलते रहे !!

Read More »

Made with in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in With Your Details

or    

Forgot your details?

Create Account