होती न फिक्र अगर इन्हें भी अपनों की

होती न फिक्र अगर इन्हें भी अपनों की

होती न फिक्र अगर इन्हें भी अपनों की
बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

होती न फिक्र अगर इन्हें भी अपनों की,
ये लहरें भी किनारों पर ठहर जाती !!
©नीवो

Hoti Na Fikr Agar Inhe Bhi Apno Ki

होती न फिक्र अगर इन्हें भी अपनों की
Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Hoti Na Fikr Agar Inhe Bhi Apno Ki,
Ye Lehre Bhi Kinaaro Par Thehr Jaati !!
©Nivo

इस पोस्ट के लेखक

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of

ABOUT

'Poems Bucket' is a social platform for you young, enthusiast and passionate poets and writers.

FOLLOW Us ON

JOIN US ON WHATSAPP

Note: Please mention your name and preferred language while joining us on WhatsApp.

CONTENT BY LANGUAGE

Made with in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in With Your Details

or    

Forgot your details?

Create Account