इज़हार-ए-मोहब्बत करता होगा

कर सके इज़हार-ए-मुहब्बत तुमसे,
हर शख्स यह दुआ करता होगा !!
बेपरवाह तेरे सामने मर सकूँ,
यही वो सांसे भरता होगा !!
खामोशियो से कह कर,
चुपके से तेरे करीब आकर !!
तेरी परछाईयों से ही इज़हार-ए-मुहब्बत करता होगा !!
~नकुल अग्रवाल

Kar sake izhaar-e-mohabbat tumse,
har shaks yeh dua karta hoga !!
beparwah tere saamne mar saku,
yahi wo sanse bharta hoga !!
khamoshio se keh kar,
chupke se tere karib aakar !!
teri parchayio se hi izhaar-e-mohabbat karta hoga !!
~Nakul Aggarwal

इस पोस्ट के लेखक

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of

Made with in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in With Your Details

or    

Forgot your details?

Create Account