चारों और पढाई का साया है

चारो और पढ़ाई का साया हैं ,
सारे पेपर में जीरो आया हैं !!
हम तो युही चल देते है
बिना मुँह धोयें एग्जाम देने !!
और दोस्त कहते हैं ,
साला रात भर पढ़ कर आया है !!

chaaro aur padai ka saya hai,
saare paper mein zero aya hai !!
ham to yuhi chal dete hai,
bina muh dhoye exam dene,
aur dost kehte hai,
sala raat bhar padh kar aaya hai !!

PoemsBucket
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account