Ho Vivekanand Se Yuva – Motivational Shayari

हो विवेकानंद से युवा

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

सनातन धर्म है अपना, इसी से आन हमारी हैं !!
मिट न पाए किसी से जो, वही पहचान हमारी हैं !!
न जाने क्यों भटकते हैं, आज मेरे देश के युवा,
हो विवेकानंद से युवा, तभी तो शान हमारी हैं !!
~कुमार रवि हिन्द

Ho Vivekanand Se Yuva

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Sanatan Dharm Hai Apna, Isi Se Aan Hamari Hai !!
Mit Na Paaye Kisi Se Jo, Wahi Pehchaan Hamari Hai !!
Na Jaane Kyon Bhatakte Hai, Aaj Mere Desh Ke Yuva,
Ho Vivekanand Se Yuva, Tabhi To Shaan Hamari Hai !!
~Kumar Ravi Hind

Kumar ravi hind
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account