Fark Sirf Soch Ka Hota Hai – Ek Baat Bolu

फर्क सिर्फ सोच का होता है ,
साकारात्मक या नकारात्मक ..!!

वरना सीडियां वही होती है –

जो किसी के लिए ऊपर जाती है ,
और किसी क लिए नीचे आती है ..!!

Fark sirf soch ka hota hai,
sakaratmak ya nakaratmak!!

warna seediya’n wahi hoti hai-

jo kisi ke liye uper jaati hai,
aur kisi ke liye neeche aati hai!!

PoemsBucket
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account