फिर उस शाम की तरह

आ जाओ तुम मिलने, फिर उस शाम की तरह

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

अश्क आंखों से छलक गया,
दे दो पनाह मुसाफ़िर को, किसी धाम की तरह !!
देखो ज़रा! सूरज भी ढल गया,
आ जाओ तुम मिलने, फिर उस शाम की तरह !!
©नीवो

Aa Jao Tum Milne, Phir Us Shaam Ki Tarah

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Ashk Aankho Se Chalak Gya,
De Do Panah Musafir Ko, Kisi Dhaam Ki Tarah !!
Dekho Zra! Suraj Bhi Dhal Gya Hai,
Aa Jao Tum Milne, Phir Us Shaam Ki Tarah !!
©Nivo

NiVo (Nitin Verma)
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account