हमारे शहर की गलियाँ

हमारे शहर की गलियाँ

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

हमारे शहर की गलियाँ,
तुम्हारे सफर का हिस्सा थी ?
या फिर भटक गए थे
तुम अपनी राह से !!
©नीवो

Hamare Shehar Ki Galiya'n

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Hamare Shehar Ki Galiya’n,
Tumhare Safar Ka Hissa Thi ?
Ya Phir Bhatak Gaye The,
Tum Apni Raah Se !!
©Nivo

NiVo (Nitin Verma)
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account