हूँ बेटा हिंदुस्तान का

हूँ बेटा हिंदुस्तान का,
लहराता झंडा शान का !!
डरकर पीछे कभी न हटता,
थककर मैं कभी न रुकता !!
तोड़ता मुंह बेईमान का,
हटाता कवच अभिमान का !!

चाहे जितनी हो दुश्मन की टोली,
खेलेंगे इनसे खून की होली !!
दिल इनके देहेल जाते,
कंधो से कंधे जब मिल जाते !!
खुशियों से भर दे माँ तेरी झोली,
चाहे सीने पर खानी हो गोली !!

जिस माँ ने हमे जन्म दिया,
खुद भूखी रहकर हमे अन्न दिया !!
भारत माँ का रक्षक बनाया इसने,
हमे वीर जवान कहलवाया इसने !!
दूध का क़र्ज़ बाकी होगा,
जबतक आतंक हावी होगा !!

फिर !
कफ़न बांधकर निकल पड़े,
दुश्मनों को मारने चल पड़े !!
अंत होगा अब भ्रष्ट अभियान का,
लहराएगा झंडा शान का,
गूंजेगा नारा – “मेरा भारत महान” का !!
हूँ बेटा हिंदुस्तान का !!
हूँ बेटा हिंदुस्तान का !!
~नितिन वर्मा

Hu beta hindustan ka,
lehrata jhanda shaan ka !!
darkar peeche kabhi na hattha,
thakkar main kabhi na rukta !!
todta muh beimaan ka,
htatha kavach abhimaan ka!!

chahe jitni ho dushman ki toli,
khelenge inse khoon ki holi !!
dil inke dehel jaate,
kandho se kandhe jab mil jaate !!
khushiyo’n se bhar de maa teri jholi,
chahe seene par khani ho goli !!

jis maa ne hume janm diya,
khud bhookhi rehkar hume ann diya !!
bharat maa ka rakshak banaya isne,
hume veer jwaan kehlwaya isne !!
doodh ka karz baaki hoga,
jabtak aatank haawi hoga !!

phir !
kafan baandh nikal pade,
dushmano ko maarne chal pade !!
anth hoga ab bharast abhiyaan ka,
lehrayega jhanda shaan ka,
goonjega nara-“mere bharat mhaan” ka,
Hu beta hindustan ka !!
Hu beta hindustan ka !!
~Nitin Verma

NiVo (Nitin Verma)
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account