काश की तुम यहाँ होती

काश कि तुम यहाँ होती

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

काश कि तुम यहाँ होती,
काश कि मेरी बाहों में सोती !!
काश कि तुम मेरा हाथ थामे चलती,
काश कि मेरे लिए सज के निकलती !!

काश कि मुझे छू कर कुछ बातें कहती,
काश कि हर वक़्त मेरे साथ रहती !!
काश कि मेरे पास आने पर आंखें मीच लेती,
काश कि मुझे खुद की तरफ खींच लेती !!

काश कि अपनी ज़िद्द से मुझको सताती,
काश कि मनाने के लिए अजीब से चेहरे बनाती !!
काश कि हमारे बीच ये काश न होता,
ये दिल तेरे इंतज़ार में यूं हर पल ना रोता !!
~विजय खेमका

Kash Ki Tum Yahan Hoti

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Kash Ki Tum Yahan Hoti,
Kash Ki Meri Baaho Mein Soti !!
Kash Ki Tum Mera Haath Thaame Chalti,
Kash Ki Mere Liye Saj Ke Nikalti !!

Kash Ki Mujhe Choo Kar Kuch Baatein Kehti,
Kash Ki Har Waqt Mere Saath Rehti !!
Kash Ki Mere Paas Aane Par Aankhein Meech Leti,
Kash Ki Mujhe Khud Ki Taraf Kheech Leti !!

Kash Ki Apni Zidh Se Mujhko Stati,
Kash Ki Manane Ke Liye Ajeeb Se Chehre Banati !!
Kash Ki Hamare Beech Ye Kash Na Hota,
Ye Dil Tere Intezaar Mein Yu Harpal Na Rota !!
~Vijay Khemka

VIJAY KUMAR KHEMKA
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account