Aankho Ka Apni Kajal Ban – Love Shayari

आँखों का अपनी काजल बन

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

आँखों का अपनी काजल बन,
मझको उनमें बस जाने दो !!
लाली बन अधरों पर अपने,
एक बार मुझको लग जाने दो !!

आतुर हूँ कबसे ही मैं,
राह बीच हूँ बिखरा पड़ा !!
समेट मुझ शृंगार-साधन को,
स्वयं को मुझसे सज जाने दो !!
~विविध जय

Aankho Ka Apni Kajal Ban

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Aankho Ka Apni Kajal Ban,
Mujhko Unme Bas Jaane Do !!
Laali Ban Adhro Par Apne,
Ek Baar Mujhko Lag Jaane Do !!

Aatoor Hoon Kabse Hi Main,
Raah Beech Hoon Bikhara Pada !!
Samet Mujh Shringhar-Saadhan Ko,
Swem Ko Mujhse Saj Jaane Do !!
~Vividh Jay

vividhjay
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account