चल आज

चल आज थोडा ठहर कर

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

वो गिले, वो शिकवे, बेकार का हर किस्सा छोड़ते है !!
चल आज इस दिल का दिल से नया रिश्ता जोड़ते है !!

वो गुमसुम, वो मायूसी से बना दिल बंजर छोड़ते है,
चल आज इश्क़ का इश्क़ से बना मंज़र जोड़ते है !!

कल के वादें आज हमें पल पल, हर पल तोड़ते है,
चल आज थोड़ा ठहर कर ज़िन्दगी उस पल मोड़ते है !!

वीरान सी हुई जिससे ज़िन्दगी वो खामोशी छोड़ते है,
चल आज फिर से मदहोश होकर मदहोशी ओढ़ते है !!
© नीवो

Chal Aaj Thoda Thehr Kar

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Wo Gile, Wo Shikwe, Bekaar Ka Har Kissa Chodte Hai !!
Chal Aaj Is Dil Ka Dil Se Naya Rishta Jodte Hai !!

Wo Gumsum, Wo Maayusi Se Bana Dil Banjar Chodte Hai,
Chal Aaj Ishq Ka Ishq Se Bana Manzar Jodte Hai !!

Kal Ke Vaadein Aaj Hame Pal Pal, Har Pal Todte Hai,
Chal Aaj Thoda Thehr Kar Zindgi Us Pal Modte Hai !!

Viraan Si Huyi Jisse Zindgi Wo Khamoshi Chhodte Hai,
Chal Aaj Phir Se Madhosh Hokar Madhoshi Odhte Hai !!
© Nivo

NiVo (Nitin Verma)
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account