जरूरी नहीं, ग़लतफ़हमियाँ ही कारण बने !

जरूरी नहीं, ग़लतफ़हमियाँ ही कारण बने !

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

जरूरी नहीं, ग़लतफ़हमियाँ ही कारण बने !
खामखां की जिद्द भी
बहुत अच्छा फ़र्ज़ निभाती है
रिश्तें को बिखेरने में !!
©नीवो

Jaroori Nahi, Galatfehmiyan Hi Kaaraan Bane

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Jaroori Nahi, Galatfehmiyan Hi Kaaraan Bane !
Khaamkha Ki Zidd Bhi
Bahut Accha Farz Nibhaati Hai
Rishte Ko Bikherne Mein !!
©Nivo

NiVo (Nitin Verma)
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account