किसी का खाफा होना भी

किसी का खफा होना भी

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

किसी का खफा होना भी उसकी अदा है,
और रूठे हुए चेहरे पर
मुस्कान लाना उसमें सुकून बड़ा है !!

छोटी छोटी बातों पर उसका यूं मुस्कुराना,
आज भी याद आता है,
खुमार वो पहले इश्क का,
वही एहसास आज भी दिल में आबाद ज्यादा है !!

उसका मुझे धीमी आवाज़ में पुकारना,
“मीत” सुनो कह कर धड़कने चुराना,
कई आवाजों में वो रूहानी आवाज़,
आज भी जिंदा है !!

एक पल जो वो मुझसे रूठता था,
उसे मनाऊं मैं बस वो यही चाहता था !!
क्योंकि,
किसी का खफा होना भी उसकी अदा थी,
और रूठे हुए चेहरे पर
मुस्कान लाना उसमें सुकून बड़ा है !!
~दश्मीत सिंह

Kisi Ka Khafa Hona Bhi

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Kisi Ka Khafa Hona Bhi Uski Adaa Hai,
Aur Roothe Huye Chehre Par
Muskaan Laana Usme Sukoon Bada Hai !!

Choti Choti Baato Pe Uska Yun Muskurana
Aaj Bhi Yaad Aata Hai,
Khumar Woh Pehle Ishq Ka,
Wahi Ehsaas Aaj Bhi Dil Mei Abaad Zyada Hai !!

Uska Mujhe Dheemi Awaaz Mei Pukaarna,
“meet” Suno Keh Kar Dhadkane Churaana,
Kai Awaazo Mein Woh Ruhani Awaaz
Aaj Bhi Zinda Hai !!

Ek Pal Jo Woh Mujhse Rooth’ta Tha,
Usse Manaau Main Bas Woh Ye Hi Chahta Tha,
Kyonki,
Kisi Ka Khafa Hona Bhi Uski Adaa Thi,
Aur Roothe Huye Chehre Par
Muskaan Laana Usme Sukoon Bada Hai !!
~Dashmeet Singh

Dashmeet Singh
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account