वो किसी और का ज़िक्र करता रहा

किसी और का ज़िक्र करता रहा

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

रात – रात भर जिसका फिक्र करता रहा,
वो कमबख्त किसी और का ज़िक्र करता रहा !!
©नीवो

Kisi Aur Ka Zikr Karta Raha

Badhi Photo Dekhne Ke Liye Click Kare

Raat – Raat Bhar Jiska Fikr Karta Raha,
Wo Kambakht Kisi Aur Ka Zikr Karta Raha !!
©Nivo

NiVo (Nitin Verma)
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account