Khule Aasmaan Mein To Tinke Bhi Safar – Motivational Shayari

खुले आसमान में तो तिनके भी सफर

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

भरी बरसात में उड़ के दिखा ए-माहिर परिंदे,
खुले आसमान में तो
तिनके भी सफर किया करते हैं !!

Bhri barsaat mein udh ke dikha e-maahir parindey,
khule aasmaan mein to
tinke bhi safar kiya karte hai !!

PoemsBucket
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account