Maat – Pita Ke Charno Mein Swarg Hota – Hindi Shayari

मात-पिता के चरणों में स्वर्ग होता

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

स्वर्ग तू कहाँ खोजता,
आ देख यहाँ –
मात-पिता के चरणों में स्वर्ग होता,

जहाँ खुशियों के फूल खिलते,
जहाँ सूरज और चाँद भी उगते !!

पक्षी भी जहाँ गाते गीत
दुश्मन भी हो जाते मीत

गगन भी उनको चूमती है
स्पर्श से धरा भी झूमती है

अरे! स्वर्ग तू कहाँ खोजता,
आ देख यहाँ…
मात-पिता के चरणों में स्वर्ग होता !!
~विजय सिंह दिग्गी

संपादक: नितिन वर्मा

swarg tu kahan khojta,
aa dekh yahan-
maat-pita ke charno mein swarg hota,

jahan khushiyo’n ke phool khilte,
jahan suraj aur chand bhi ugte !!

pakshi bhi jahan gaate geet,
dushman bhi ho jaate meet !!

gagan bhi unko choomti hai,
sparsh se dhra jhoomti hai !!

arey! swarg tu kahan khojta,
aa dekh yahan,
maat-pita ke charno mein swarg hota !!
~Vijay Singh Diggi

Sampadak: Nitin Verma

vijay singh diggi
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account