Modi Ji Ki Rajniti – Currency Notes Of 500 & 1000 Are Banned

मोदी जी की राजनीती

बड़ी फोटो देखने के लिए क्लिक करे

राजनीती को कहते थे हम कीचड़,
देखो क्या कमल खिलाया है !!
इस देश में जो हो ना पाया बरसों से,
मोदी जी ने कर के दिखाया है !!

लोग कहते रह गये,
भ्रष्टाचार मिटाना है !!
मोदी जी ने चेतावनी दी,
और कर के भी दिखाया है !!

500 और 1000 से शुरूआत करी है उन्होंने,
अभी मंज़िल पाना बाकी है !!
जड़ से भ्रष्टाचार को मिटाने की,
मन में उन्होंने ठानी है !!
~विजय सिंह दिग्गी

Rajneeti ko kehte the ham keechad,
dekho kya kamal khilaaya hai !!
Is desh mein jo ho na paya baraso’n se,
modee jee ne kar ke dikhaayaa hai !!

Log kehte reh gaye,
bhrastachaar mitana hai !!
Modi ji ne chetavani di,
aur kar ke bhi dikhaya hai !!

500 aur 1000 se shuruat kari hai unhone,
abhi manzil pana baaki hai !!
Jad se bhrastachaar ko mitaane ki,
man mein unhone thaani hai !!
~Vijay Singh Diggi

vijay singh diggi
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account