रुक जाना मत

Ruk Jaana Mat Hindi Motivational Shayari Kavita

www.PoemsBucket.com

राहें बहुत कठिन मिलेंगी
देख उन्हें घबराना मत।

मंज़िल को पाने से पहले
देखो तुम रुक जाना मत।

अपना सपना ज़िंदा रखना
सपने से ध्यान हटाना मत।

वक़्त का कोई विकल्प नहीं
इसको व्यर्थ गँवाना मत।

पहले तुम मेहनत कर लेना
किस्मत को अजमाना मत।

जीवन में दुःख के पर्वत होंगे
अपना शीश झुकाना मत।

नदियाँ बहतीं झूठ की यहाँ
इनमें डूब के जाना मत।

दुनिया तुमपे हँसेगी पक्का
इसकी हँसी से शर्माना मत।

बहुत मिलेंगे भटकाने वाले
उनकी बातों में आना मत।

तुमसे तुम्हारा ध्यान हटाएँ
ऐसे लोगों में जाना मत।

अपने मन की भी सुन लेना
औरों की राय में आना मत।

तुम सब कुछ कर सकते हो
किसी से आस लगाना मत।

जब तुम मंज़िल को पा लो
रस्तों को भूल जाना मत।

मेरी कविता सिर्फ़ सबक़ है
इसको भूल जाना मत।
©रिज़वान रिज़

Ruk Jaana Mat Hindi Motivational Shayari Kavita

www.PoemsBucket.com

Raahe Bahut Kathin Milegi,
Dekh Unhe Ghabrana Mat !!

Manzil Ko Paane Se Pehle
Dekho Tum Ruk Jaana Mat !!

Apna Sapna Zinda Rakhna
Sapne Se Dhyaan Hatana Mat !!

Waqt Ka Koi Vikalp Nahi
Isko Vyarth Gawana Mat !!

Phle Tum Mehnat Kar Lena
Kismat Ko Ajmaana Mat !!

Diwan Mein Dukh Ke Parvat Honge
Apna Sheesh Jhukaana Mat !!

Nadiya Behti Jhooth Ki Yahan
Inme Doob Ke Jaana Mat !!

Duniya Tumpe Hansegi Pakka
Iski Hasi Se Sharmana Mat !!

Bahut Milege Bhatkane Wale
Unki Baato Mein Aana Mat !!

Tumse Tumhara Dhyaan Hataye
Aise Logo Mein Jaana Mat !!

Apne Mann Ki Bhi Sun Lena
Auro Ki Rai Mein Ana Mat !!

Tum Sab Kuch Kar Sakte Ho
Kisi Se Aas Lagana Mat !!

Jab Tum Manzil Ko Pa Lo
Raasto Ko Bhool Jana Mat !!

Meri Kavita Sirf Sabak Hai
Isko Bhool Jana Mat !!
©Rizwan Riz

Rizwan Riz
Share This

कैसा लगा ? नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर बताइए!

0 Comments

Leave a reply

Made with  in India.

© Poems Bucket . All Rights Reserved.

Log in with your credentials

or    

Forgot your details?

Create Account